कागद राजस्थानी

गुरुवार, 1 नवंबर 2012

घेसळो

भागी ल्याओ ऊंदरी
सांकळ लिँधी बांध
थाणेदार रै
चढ्यो बुखार
पटवारी नै बुलाओ रै
मास्टर री
बदळी करावां!

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.