कागद राजस्थानी

रविवार, 29 अप्रैल 2012

 संसद में राजस्थानी री गूंज
==================
 
श्री अर्जुन राम जी मेघवाळ सा संसद में बोल्या है जका
 ऐ दोन्यूं दूहा म्हारा लिख्योडा़ है -
[1]
रोटी बेटी आपणीं , भाषा अर बोवार ।
राजस्थानी है भाया , आडो क्यूं दरबार ॥
[2]
मायड़भाषा भली घणीं ,ज्यूं व्है मीठी खांड ।
परभाषा नै बोलता , जाबक दीखां भांड ॥

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
इस गैज़ेट में एक गड़बड़ी थी.